सास बहू मंदिर उज्जैन आप का हार्दिक स्वागत करता है

 

 

आमतौर पर सास-बहू में अनबन आम बात है लेकिन एक बहू ने अपनी सास की याद में जीवनखेड़ी गांव में सास-बहू के प्रेम का प्रतीक मंदिर बनाया है, जिसका रविवार को अनावरण हुआ। इसमें देवी पार्वती और उनकी दोनों बहुओं रिद्धि-सिद्धि की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा रविवार को करवाई गई। ईश्वर से प्रार्थना की गई है कि जो भी इस मंदिर में दर्शन करे, उनके घर में सास-बहू के बीच झगड़े नहीं हो। कार्यक्रम में मौजूद महंत श्री 1008 स्वामी शांतिस्वरूपानंद महाराज ने इस दौरान कहा जिस तरह पार्वती और रिद्धि के बीच प्रेम था, उसी तरह हर सास-बहू के बीच प्रेम हो तो हर घर स्वर्ग बन जाए। मंदिर निर्माता डॉ. कैलाशचंद्र नागवंशी ने बताया मंदिर बनाने का उद्देश्य सास बहू के बीच आपसी प्रेम की स्थापना करना है। उषा नागवंशी ने बताया उनकी सास का स्वर्गवास करीब 20 वर्ष पहले हो गया। जीवन के हर मोड़ पर उन्हें अपनी सास की कमी महसूस हुई। अपनी सासु मां लक्ष्मी नागवंशी की स्मृति में ही मंदिर का निर्माण करवाया है। अतिथि के रूप में महाकाल मंदिर के मुख्य पुजारी रमण त्रिवेदी, पुजारी दिनेश गुरु, लालचंद गोमे अादि मौजूद थे।

 

 

 

© Copyright 2015 Future Infotech Software फ्युचर इन्फोटेक के द्वारा विकसित